अफिलिएट मार्केटिंग कैसे शुरू करें | How we can start affiliate marketing?

हेलो दोस्तों एक बार फिर से आपका स्वागत है HindiOnlineGyan.Com के brand new आर्टिकल में। आज के इस में article में, मैं आपको Affiliate Marketing in hindi, के बारे में complete information देने बाला हूँ, तो मेरे साथ बने रहिये।

आज के समय में affiliate marketing का scope बहुत ज्यादा है। अगर आप नए affiliate marketer है, या अभी आप affiliate मार्केटिंग शुरू करने की सोच रहे हैं।

तो मैं आपको suggest करूंगा कि आप amazon affiliate program से ही शुरू करें, क्योंकि amazon का affiliate प्रोग्राम और सभी affiliate प्रोग्राम के तुलना में बहुत आसान है।

क्योंकि amazon associate दुनिया का सबसे पुराना और पॉपुलर नेटवर्क है। amazon affiliate का जो कमीशन structure  है, बाकी सभी affiliate प्रोग्राम के comparison में कम है।

लेकिन Amazon एक बहुत ही पॉपुलर ब्रांड है। जिसे आपके visitors को customers में कन्वर्ट करने में महारत हासिल है।

Amazon के वेबसाइट पर 12 मिलियन से भी ज्यादा प्रोडक्ट लिस्ट है। इसकी website पर दुनिया का हर वह प्रोडक्ट मिल सकता है जो आप प्रमोट करना चाहते हो।

अगर आप amazon affiliate मार्केटिंग स्टार्ट करना चाहते हैं। तो आपको कुछ important points जानना बहुत जरूरी है।

जो कि आपको फास्ट approval दिला सकते हैं। और आपका अकाउंट ban होने से भी बचा सकते हैं।

Amazon affiliate in hindi : approval जल्दी कैसे प्राप्त करें?

Amazon affiliate में जुड़ने के लिए सबसे पहले आपके पास अपनी वेबसाइट होना बहुत जरूरी है।

अगर आपके पास वेबसाइट नहीं है, तो आप अपने सोशल अकाउंट को भी use कर सकते हो। अगर आप वेबसाइट use करना चाहते हैं तो यह वेबसाइट आपकी खुद की होना चाहिए।

और इस वेबसाइट पर लास्ट 60 दिनों में 10 पोस्ट minimum publish रहनी चाहिए।

आप social media अकाउंट को भी use कर सकते हैं। इसके लिए आप Facebook,YouTube,Instagram Twitter भी यूज़ कर सकते हो। लेकिन आपके minimum 500 followers होना चाहिए। 

Geo targeting क्या है?

मान लो अगर आप कोई Amazon affiliate मार्केटिंग वेबसाइट बनाते हैं।  और आप का टारगेट USA या INDIA है।

आपका मेन traffic source गूगल है। जहां से आपकी वेबसाइट पर targeted कस्टमर आते हैं।

Amazon के सभी प्रोडक्ट पूरी दुनिया में available है। अगर आप का मेन ट्रैफिक इंडिया से आता है। लेकिन हो सकता है कि थोड़ा बहुत ट्रैफिक USA से भी आए।

अगर आप का मेन traffic USA से आता है तो भी हो सकता है कि थोड़ा बहुत ट्रैफिक India से या और देशों से भी आए।

अगर आपने अपनी पोस्ट में अमेजॉन इंडिया का link डाला है। और USA का visitor आपके link पर क्लिक करता है।

तो उसे अमेजॉन इंडिया की वेबसाइट देखेगी। जाहिर सी बात है वह अमेजॉन इंडिया से नहीं खरीदेगा।और इस तरह आपका बहुत सारा कमीशन ऐसे ही रह जायेगा।

Amazon का affiliate प्रोग्राम 13 देशों में available है। यहां पर Geo targeting का मतलब है। कि आपको इन सभी country से कमिशन लेने के लिए उनके ही country के affiliate प्रोग्राम में जुड़ना होगा।

और अपनी वेबसाइट में इस तरह से सेटिंग करना है। कि आपकी पोस्ट से जब कोई visitor दुनिया के किसी भी कोने से आपके Amazon के लिंक पर क्लिक करें।

तो वह अपनी country के Amazon site पर लैंड करें। ताकि आपको उसका कमिशन मिल सके।

तो दोस्तों Geo targeting है ना कमाल का टॉपिक।

Amazon cookies

बहुत सारे affiliate marketers को cookies के बारे में काफी कंफ्यूजन रहता है। तो आज इस आर्टिकल के माध्यम से आपके सारे कंफ्यूजन क्लियर हो जाएंगे।

cookies एक value होती है। affiliate मार्केटिंग की कंपनी जोकि user के ब्राउज़र पर स्टोर कर देती। इस cookies में important information होती है।

जैसे कि affiliate link और cookies duration time जैसे कि मान लो आप किसी कंपनी को प्रमोट कर रहे हो। और आपकी वेबसाइट से कोई विजिटर क्लिक करके उस वेबसाइट पर गया।

और उसने प्रोडक्ट देखा और अच्छा भी लगा लेकिन उस समय नहीं खरीदा लेकिन हुआ यह कि वह 2 दिन बाद डायरेक्ट ही उस वेबसाइट पर गया। क्योंकि उसे उस वेबसाइट का नाम मालूम था।

और वहां से कुछ खरीद लिया तो इस प्रकार के केस में भी आपको कमीशन मिल सकता है। 

और यह depend करता है cookies time पर, जैसे अगर आप किसी affiliate कंपनी को प्रमोट करते हो। और उस वेबसाइट का cookies टाइम पीरियड 30 दिन है।

अगर कोई visitor आपकी वेबसाइट से उस कंपनी की वेबसाइट पर जाता है। उस समय अगर उसने कुछ नहीं खरीदा। और 29 दिन के बाद डायरेक्ट वेबसाइट पर जाकर भी अगर वह कुछ खरीदता है।

तो भी आपको कमीशन मिलेगा। क्योंकि उसके ब्राउज़र में आपकी cookies थी। और उस कंपनी ने यह detect कर लिया था। कि कस्टमर ने 30 दिन के अंदर ही उस affiliate लिंक से क्लिक किया है।

तीन बातें जो आपके कमीशन को कम कर सकती हैं-जरूर जानें।

1 यदि कोई visitor आपके affiliate link पर क्लिक करने के तुरंत बाद किसी और affiliate link पर क्लिक करे तो इसका सीधा असर आपके कमीशन पर पड़ता है।

2 यदि visitor ने अपने ब्राउज़र से cookies को डिलीट कर दिया है तो इसका सीधा असर आपके कमीशन पर पड़ता है।

3 और यदि visitor ने PC और इंटरनेट कनेक्शन same use किया लेकिन ब्राउज़र दूसरा use किया तो भी इसका सीधा असर आपके कमीशन पर पड़ता है।

इन्हे भी पढ़िये।

Amazon cookies के कुछ महत्वपूर्ण Points

1. यदि आपकी वेबसाइट visitor आपके लिंक से क्लिक करके Amazon पर पहुंचता है तो उस प्रोडक्ट के अलावा और भी कोई प्रोडक्ट खरीदता है तो आपको सभी प्रोडक्ट पर कमीशन मिलेगा।

2. यदि उस visitor के card में दो प्रोडक्ट पहले से add हैं और उसने आपके वेबसाइट पर क्लिक करके Amazon से दो प्रोडक्ट और खरीदे तो आपको दो प्रोडक्ट का ही कमीशन मिलेगा।

3. यदि किसी visitor ने आपकी वेबसाइट से Amazon लिंक पर क्लिक किया और तीन प्रोडक्ट add card किए तो आपकी cookies duration 90 दिन हो जाएगी।

यदि उसने 15 दिन बाद डायरेक्ट Amazon से एक प्रोडक्ट add करके order किया तो आपको पिछले तीन प्रोडक्ट का ही कमीशन मिलेगा।

3. यदि आपकी वेबसाइट में कोई visitor जाता है और तुरंत कुछ खरीद लेता है लेकिन 2 घंटे के बाद वह वापस आता है।

और फिर से कुछ खरीदना है तो cookies का duration 24 घंटे होने पर भी आपको पहले order का ही कमीशन मिलेगा।

मुझे उम्मीद है कि आपको मेरे द्वारा लिखी गई ये पोस्ट जरूर अच्छी लगी होगी। यदि अच्छी लगी तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों अपने रिश्तेदारों के साथ शेयर करें।

यदि आपके मन में कोई और सवाल है तो आप हमें comments करके पूछ सकते है। हमें आपके comments का इंतजार रहेगा।

Leave a Comment

error: Content is protected !!